Post Office Scheme : इस स्कीम में 124 महीने में पैसे होंगे दोगुने

Post Office Scheme,post office interest rate,post office rd scheme,post office rd calculator,sbi rd calculator

हम पूरी तरह से जल्द ही पोस्ट ऑफिस  में संसाधन डालने की तैयारी करते हैं। सभी चीजों को माना जाता है कि यह एक पोस्ट ऑफिस सरकारी उपक्रम है, और व्यक्तियों के पास नकदी को दूर रखने में आश्वस्त होने की वास्तविक भावना है। लोगों को लगता है कि अब उनका पैसा नहीं डूबेगा। यदि आप भी लंबी अवधि में सुनिश्चित रिटर्न पाने की इच्छा रखते हैं तो मेलिंग स्टेशन में ऐसी योजना है। जिसमें आपको सुनिश्चित रिटर्न मिलता है। post office interest rate,post office rd scheme

Post Office Scheme

कई बैंकों के फिक्स्ड स्टोर की तुलना में कुछ पोस्ट ऑफिस योजनाओं पर वित्तीय समर्थकों को अधिक राजस्व मिल रहा है। पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) सुकन्या समृद्धि योजना और सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (SCSS) जैसी योजनाएं हैं। इसमें आपको 7% से ज्यादा रिटर्न मिलता है। साथ ही किसान विकास पत्र (केवीपी) में आपको सालाना 6.9 फीसदी राजस्व मिलता है।

Post Office Scheme,sbi rd calculator

join telegram channel

Post office Schemes Highlights

इस पोस्ट का नाम post office schemes
किस ने आरंभ की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य लोगों के अंदर बचत करने की आदत को उच्च ब्याज दर तथा कर में छूट प्रदान करके बढ़ावा देना।
ऑफिशियल वेबसाइट indiapost.gov.in
साल 2022
स्कीम उपलब्ध है या नहीं उपलब

किसान विकास पत्र (केवीपी)

किसान विकास पत्र केवीपी के तहत, आप अपने स्टोर की राशि को 10 साल 4 महीने में अत्यधिक वित्तपोषण लागत पर दोगुना कर सकते हैं। यदि आप किसान विकास पत्र केवीपी में आज एक लाख रुपये जमा करते हैं, तो यह अगले 124 महीनों में बढ़कर 2 लाख रुपये हो जाएगा। किसान विकास पत्र केवीपी स्टोर्स पर चल रहे 6.9 प्रतिशत की फाइनेंसिंग लागत कई बैंकों के फिक्स्ड स्टोर से अधिक है। post office rd calculator,sbi rd calculator,sbi rd calculator

याद रखें ये बातें:

  • आप केवीपी में मूल रूप से 1000 रुपये जमा कर सकते हैं। इस योजना में ब्याज के लिए कोई बड़ी कटऑफ नहीं है। आप कुछ केवीपी खाते खोल सकते हैं।
  • केवीपी में आपका योग बार-बार विकसित होता रहता है। यदि आप नकद जमा करते हैं, तो यह राशि 124 महीनों के बाद बढ़ेगी। इसी तरह, कुछ स्थितियों में, आप भी जल्दबाजी में अपना पैसा निकाल सकते हैं।
  • यह मानते हुए कि रिकॉर्ड धारक बाल्टी को लात मारता है, राशि उम्मीदवार को स्थानांतरित कर दी जाती है। रिकॉर्ड धारक की मृत्यु होने पर भी संयुक्त धारक को राशि मिल सकती है।

Post Office schemes:

पोस्ट ऑफिस द्वारा प्रस्तुत केवीपी जैसी छोटी आरक्षित निधि योजनाएं सुनिश्चित करती हैं कि वे वित्तीय समर्थकों को वापस मिलें जो अपनी अच्छी तरह से योग्य नकदी खोने के लिए खड़े नहीं हो सकते। इसके अलावा, कई मेलिंग स्टेशन योजनाएं, उदाहरण के लिए, पीपीएफ, एसएसवाई और एससीएसएस महत्वपूर्ण सार्वजनिक और गोपनीय क्षेत्र के बैंकों द्वारा प्रस्तुत फिक्स्ड स्टोर ऋण शुल्क के विपरीत कर कटौती और उच्च वित्तपोषण लागत की पे शकश करते हैं।

हालांकि, जुआ खेलने की चाहत रखने वाले वित्तीय समर्थक शेयर्ड एसेट और स्टॉक जैसी बाजार-व्यवस्थित योजनाओं में संसाधन लगा सकते हैं, जो पोस्ट ऑफिस योजनाओं की तुलना में पसंदीदा रिटर्न और तेज दे सकते हैं। आप अपने पैसे को दुगना कर सकते हैं। हालांकि, संसाधनों को सामान्य संपत्ति या स्टॉक में डालने से पहले, आपको सावधानीपूर्वक अन्वेषण करना चाहिए और एक विशेषज्ञ मौद्रिक गाइड की सलाह लेनी चाहिए।

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

रखे सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज पहले से तैयार:

पोस्ट ऑफिस में किसी भी स्कीम के अंतर्गत निवेश करने से पहले आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आपके पास सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज उपलब्ध है या नहीं। यदि आपके पास किसी भी दस्तावेज की कमी है तो आपको खाता खुलवाने से पहले उस दस्तावेज प्राप्त करना होगा।

सारांश (Summary)

तो दोस्तों आपको कैसी लगी या जानकारी तो हमें कमेंट बॉक्स में बताना न भूलें और अगर आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो हमें जरूर बताएं। और दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और कमेंट करें और दोस्तों के साथ शेयर भी करें।

(FAQ’s) post office schemes

 ✅ डाकघर बचत के नुकसान क्या हैं?

Ans: हालांकि, डाकघर बचत के साथ नुकसान यह है कि सुविधा बैंकिंग के युग में, आपको हर महीने डाकघर का दौरा करना होगा । बैंकों के मामले में, राशि आपके खाते से स्वतः डेबिट हो जाती है। हालाँकि, समय से पहले निकासी से आपको वांछित रिटर्न नहीं मिल सकता है।

✅ क्या डाकघर की योजनाएं कर योग्य हैं?

Ans: टैक्स छूट: ज्यादातर डाकघर बचत योजनाएं निवेशक द्वारा जमा की गई राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कर छूट प्रदान करती हैं । कुछ योजनाएं जैसे एससीएसएस, सुकन्या समृद्धि योजना, पीपीएफ इत्यादि भी अर्जित ब्याज राशि पर कर छूट प्रदान करती हैं।

join telegram channel

✅ पोस्ट ऑफिस में यूजर आईडी क्या है?

Ans: User ID एक विशिष्ट पहचान है और इसे बदला नहीं जा सकता । एक नए यूजर आईडी के लिए, आपको एक नए उपयोगकर्ता के रूप में इंडियापोस्ट साइट पर फिर से पंजीकरण करना होगा।

✅ पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट से कितना पैसा निकाला जा सकता है?

Ans: बचत (बेसिक एसए के अलावा) और चालू खातों के लिए प्रति माह 25,000 रुपये तक नकद निकासी मुफ्त है। मुफ्त सीमा के बाद मूल्य का 0.50% न्यूनतम रु. 25 प्रति लेनदेन आईपीपीबी नोटिस में कहा गया है।

Leave a Comment